देखें- बुजुर्गों ने याद की 'अपने ज़माने' की होली

Navbharat Times Online 28.2K Views
  • 1.1K
  • 81
  • 28

Generating Download Links...

तब रंग की नहीं, प्यार की होली होती थी...बुजुर्गों ने याद की अपने ज़माने की होली

Posted 3 years ago in TV & Movies

Dinesh Sharma 3 years ago

बिल्कुल रंग से ही होली खेली जाती थी, बरसाना से लगाकर पूरे भारत और पूरी दुनिया में रंगों से ही होली खेली जाती थी। कितनी बेरंग होती ये दुनिया अगर रंग नहीं होते

Avinash Savita 3 years ago

Avinash

Ranjana Mukherjee 3 years ago

Happy holi

जयकरण जयकरण 3 years ago

Jdhdjxkg

Chandra Prakash 3 years ago

Happy Holi.

कूशाराम भील 3 years ago

Ggjhgdfvji

Krpawar Pawar 3 years ago

Happy Holi

Bimal Das 3 years ago

Tejas Bhatt 3 years ago

कोंग्रेसी चमचे भी अजीब है..
गाय को माता मानने में दिक्कत है, पर मंद बुध्दि के बालक पप्पू जैसे गधे
को बाप बनाए बैठे हैं
😂😂😂😂

Tejas Bhatt 3 years ago

शुभ होली सभी मेरे भव्य भारत देश के भाईयो ओर बहनो को... होली के त्योहार की हार्दिक शुभकामनाएँ मेरी तरफ से संपूर्ण भारत वासियों को